अब वो दिन दूर नहीं , जब जेवर की जमीन पर होगा अंतराष्ट्रीय एयरपोर्ट | जेवर के अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के निर्माण पूरा करने के लिए प्रशासन से मिली मंजूरी. जिससे लोगो को मिलेगा रोजगार और पर्यटन के अवसर बढ़ेंगे

जेवर के अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के निर्माण पूरा करने के लिए प्रशासन से मिली हरी झंडी | अब वो दिन दूर नहीं , जब जेवर की जमीन पर होगा अंतराष्ट्रीय एयरपोर्ट | जिससे लोगो को मिलेगा रोजगार और पर्यटन के अवसर बढ़ेंगे| :- 

गौतम बुद्ध नगर के नॉएडा जेवर में बनने वाले अंतरराष्ट्रीय हवाई अडडे को केंद्र प्रशासन ने सैद्धांतिक सहमति दे दी है. अंतरराष्ट्रीय स्तर के इस हवाई अडडे के निर्माण के लिए करीब 3000 हेक्टेयर जमीन की आवश्यकता होगी.  पहले चरण के निर्माण में एक हजार हेक्टेयर जमीन की जरूरत होगी. यहां देश का पहला बडा एयर कार्गो हब का निर्माण किया जायेगा.  गौतम बुद्ध नगर के नॉएडा जेवर के इस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के निर्माण होने से पश्चिमी उत्तर प्रदेश के जिलों का आर्थिक विकास होने,  पर्यटन को बल मिलने और लोगो को रोजगार व business के अवसर बढ़ने की उम्मीद जताई जा रही है.  इस हवाई अडडे के निर्माण में लगभग 15 से 20 हजार करोड़ रुपये खर्च होने की उम्मीद जताई जा रही है.  यमुना एक्सप्रेसवे डेवलपमेंट अथॉरिटी (येडा) ने एयरपोर्ट के निर्माण के लिए 3 एकड़ जमीन दे दी है.

 

उत्तर प्रदेश के नागरिक उडडयन मंत्री नंद गोपाल नंदी और स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने एक संयुक्त पत्रकार से बात ककते हुए बताया कि दिल्ली के airport पर यात्रियों की बढ़ती संख्या को देखते हुए गौतम बुद्ध नगर नोएडा  के जेवर में 2003 में एक international airport की योजना बनायी गई थी. उत्तर प्रदेश की पिछली सरकारों ने इस पर कोई ध्यान नहीं दिया जिससे अभी तक एयरपोर्ट नहीं बना. योगी आदित्यनाथ ने मुख्यमंत्री बनने के बाद इस दिशा मे केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय से बात की और जेवर International aiport के काम को आगे बढ़ाया.

Noida Jewar में बनने वाले इस International aiport से पश्चिम उत्तर प्रदेश के आगरा,अलीगढ, मुरादाबाद, मेरठ, मथुरा, मुजफ्फरनगर, बुलंदशहर तथा वृन्दावन, सहित
एनसीआर Delhi Noida क्षेत्र में आर्थिक विकास होने, साथ ही पर्यटन, लोगो को रोजगार व business के अवसर बढ़ने की उम्मीद जताई जा रही है.
नंदी ने बताया कि पहले चरण में करीब 1 हज़ार हेक्टेयर भूमि का अधिग्रहण Noida Express Way Development Authority द्वारा
किया जाएगा जिस पर लगभग 2 हज़ार करोड रुपये खर्च होंगे. इसके अलावा Delhi-Noida एनसीआर के सभी क्षेत्र को मेट्रो बस व अन्य यातायातो से जोड़ा जायेगा.

 

प्रशासन के स्वास्थ्य मंत्री सिंह ने बताया कि अभी दिल्ली के Airport पर प्रति साल लगभग 5-6 करोड़ यात्री आते जाते रहते हैं. और यात्रियों की यह संख्या प्रति साल बढ़ती ही जा रही है. इन हालातों को देखते हुए प्रशासन ने दिल्ही के पास नया अन्र्तराष्ट्रीय एयरपोर्ट का निर्माण करने को मंजूरी दे दी है. इसी लिए प्रशासन ने जेवर एयरपोर्ट को जल्दी से जल्दी बनबाने के लिए नॉएडा एक्सप्रेस वे डेवलपमेंट अथॉरिटी को दे दी है. और प्रशासन ने कहा कि इस अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट के बनने से लोगो को व्यवसाय करने का अवसर मिलेगा व क्षेत्र में औदयोगिक निवेश बढ़ेगा. बहुत साड़ी आई टी की कंपनी व अन्य फॅक्टरीस लाहा निवेश करेंगी. उसे अपना व्यवसाय बढ़ाने में काफी मदद मिलेगी. इसलिये तरह लोगो को उपचार देने के लिए बड़े अस्पताल भी खोले जायेंगे जिससे लोगो का सही से उपचार होगा. बड़े बड़े रेस्टोरेंट और होटल्स बनेंगे.

 

Leave a Reply